कोविशील्ड वैक्सीन बनाने वाली कंपनी एस्ट्राजेनेका द्वारा साइड इफेक्ट से हार्ट अटैक आने की बात स्वीकारने के बाद भारत में इसको लेकर राजनीति गरमा गई है। कोविड के दौरान सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने वैक्सीन का विरोध किया था। वैक्सीन बनाने वाली कंपनी द्वारा ब्रिटिश कोर्ट में हार्ट अटैक की बात को स्वीकार किया है। इसके के बाद अखिलेश यादव की पत्नी और मैनपुरी से सपा प्रत्याशी डिंपल यादव ने अखिलेश यादव के वैक्सीन न लगाने के बयान का समर्थन किया है। मैनपुरी में चुनाव प्रचार के दौरान दैनिक भास्कर से खास बातचीत में उन्होंने कहा- इस वैक्सीन से लोगों को दिक्कत आ रही है। जिनकी वैक्सीन लगवाने के बाद हृदय गति रुकने से मौत हुई, सरकार को ऐसे लोगों को मुआवजा देना चाहिए। डिंपल ने कहा- कोविड के दौरान अखिलेश यादव ने कहा था कि हम वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। ऐसे में आज उनका फैसला सही साबित हुआ। ये बहुत निराशाजनक है कि अधिकांश लोग वैक्सीन लगवा चुके हैं। अभी प्रियंका के साथ चलने का डिसाइड नहीं हुआ है
डिंपल यादव मैनपुरी में अकेले की चुनाव प्रचार की बागडोर थामे हैं। इस सवाल पर उन्होंने कहा- वो अकेले नहीं है। उनका पूरा संगठन और कार्यकर्ता प्रचार में जुटे हैं। इंडिया गठबंधन बनने के बाद राहुल और अखिलेश यादव साथ आ गए हैं। डिंपल और प्रियंका गांधी प्रचार में कब साथ दिखेगी? इसके जवाब में उन्होंने कहा- अभी साथ चलने को लेकर कोई डिसाइड नहीं हुआ है। अगर साथ चलेंगे तो दिख जाएंगे, नहीं चलेंगे तो भी पता चल जाएगा। प्रियंका गांधी के रायबरेली से चुनाव लड़ने की अटकलों पर उन्होंने कहा- ये अच्छी बात है। उनकी पार्टी का डिसीजन है कि कौन कहां से लडे़गा? मगर, इसका बेहतर जवाब प्रियंका गांधी ही दे पाएंगी। हालांकि अब ऑफिशियल ऐलान हो गया है। राहुल गांधी रायबरेली से चुनाव लड़ेंगे। अमेठी से किशोरी लाल शर्मा को उतारा है। बड़े वोटों से हमारी जीत होगी
डिपंल यादव के सामने भाजपा ने कैबिनेट मंत्री जयवीर सिंह को उतारा है। इस पर डिंपल ने कहा- ये अच्छी बात है कि मंत्रीजी चुनाव लड़ रहे हैं। आखिर कोई न कोई तो चुनाव लड़ता। मैनपुरी में उनकी तैयारी पूरी है। जनता का प्यार उन्हें मिल रहा है। बडे़ वोटों से उनकी जीत होगी। इस सरकार में बेटा-बाप से पहले रिटायर हो जाएगा
डिंपल यादव युवाओं से सीधा संवाद कर रही हैं। वो बेरोजगारी के मुद्दे को उठा रही हैं। अग्निवीर भर्ती योजना पर उनका कहना है कि भाजपा सरकार में पहली बार ऐसा देखने को मिल रहा है कि बेटा-बाप से पहले रिटायर हो जाएगा। अग्निवीर योजना में 4 साल बाद युवा बेरोजगार होगा। ये योजना बहुत निराशाजनक है। इस योजना से देश और युवाओं का सम्मान गिराया है। इंडिया गठबंधन की सरकार बनने के बाद इस योजना को खत्म किया जाएगा।

By

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe for notification